Quick Feed

अवकाश के बाद आज से फिर होगी संसद की कार्यवाही, धन्यवाद प्रस्ताव पर गतिरोध की संभावना; NEET पर बहस को अड़ा विपक्ष

अवकाश के बाद आज से फिर होगी संसद की कार्यवाही, धन्यवाद प्रस्ताव पर गतिरोध की संभावना; NEET पर बहस को अड़ा विपक्ष18 वीं लोकसभा चुनाव के परिणाम के बाद संसद का पहला सत्र चल रहा है. 10 दिनों का यह सत्र 24 जून को शुरु हुआ था और 3 जुलाई तक चलेगा. शनिवार और रविवार की छुट्टी के बाद सोमवार से एक बार फिर इसकी शुरुआत होगी. 26 जून को लोकसभा स्पीकर का चुनाव हुआ था और 27 जून को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Draupadi Murmu) दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित किया था. अब सोमवार से राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव की शुरुआत होगी. हालांकि विपक्षी दलों की तरफ से लगातार NEET पेपर लीक को संसद की कार्यवाही में मुद्दा बनाया जा रहा है और लगातार सदन में हंगामा देखने को मिल रहा है.लोकसभा में, भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सदस्य और पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा की शुरुआत करेंगे. भाजपा की दिवंगत नेता सुषमा स्वराज की बेटी एवं पहली बार की लोकसभा सदस्य बांसुरी स्वराज इस प्रस्ताव का अनुमोदन करेंगी. लोकसभा ने धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा के लिए 16 घंटे का समय निर्धारित किया है, जिसका समापन मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जवाब के साथ होगा.राज्यसभा में चर्चा के लिए 21 घंटे का समय निर्धारित किया गया है और प्रधानमंत्री के बुधवार को (चर्चा पर) जवाब देने की संभावना है. नीट मुद्दे पर संसद में इस सप्ताह काफी हंगामा हुआ. राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने पांच मई को नीट-यूजी का आयोजन किया था, जिसमें करीब 24 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए थे. नतीजे चार जून को घोषित किए गए, लेकिन इसके बाद बिहार जैसे राज्यों में प्रश्नपत्र लीक होने के अलावा परीक्षा से जुड़ी अन्य अनियमितताओं के आरोप लगे.राज्यसभा में चर्चा की शुरुआत करते हुए भाजपा सदस्य सुधांशु त्रिवेदी ने मोदी को ‘‘अतुलनीय” बताया था और कहा था कि देश के सामने आने वाले मुद्दों से निपटने के उनके दृष्टिकोण और देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू द्वारा अपनाए गए दृष्टिकोण में बहुत अंतर है. भाजपा सदस्य कविता पाटीदार ने प्रस्ताव का समर्थन किया था और चर्चा में अब तक नौ अन्य सदस्य भाग ले चुके हैं. लोकसभा में शुक्रवार को विपक्षी सदस्यों ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा ‘नीट-यूजी’ में कथित अनियमितता पर चर्चा कराने की मांग को लेकर हंगामा किया, जिस कारण सदन की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी गई.18 वीं लोकसभा चुनाव के बाद पहले सत्र में कब क्या हुआ?24 और 25 जून को नए सांसदों ने लिया शपथ.26 जून को लोकसभा के अध्यक्ष का हुआ चुनाव.27 जून को राष्ट्रपति का अभिभाषण.28 जून को प्रधानमंत्री ने संसद में अपनी कैबिनेट के सदस्यों का परिचय दिया.1 से 3 जुलाई तक राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा होगी.  नीट के मुद्दे पर राज्यसभा में भी हंगामानीट विवाद पर चर्चा कराने की मांग को लेकर विपक्ष ने राज्यसभा में जोरदार विरोध प्रदर्शन किया तथा विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खरगे भी अपने साथी सदस्यों के साथ आसन के करीब आ गए. नीट मुद्दे पर हंगामे के बीच छत्तीसगढ़ से कांग्रेस सांसद फूलो देवी नेताम उच्च रक्तचाप के कारण अचानक बेहोश हो गईं, जिसके बाद उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया. विपक्षी दलों के सदस्यों ने सदन की कार्यवाही स्थगित न करने तथा राज्यसभा सदस्य के स्वास्थ्य की चिंता न करने के लिए सरकार की आलोचना की.  विपक्ष का नेता हर भारतीय के लिए सबसे मजबूत लोकतांत्रिक साधन: राहुल गांधीराहुल गांधी ने रविवार को कहा कि विपक्ष का नेता हर भारतीय के लिए सबसे मजबूत लोकतांत्रिक साधन है और वह इस भूमिका में संसद में भारत के लोगों की आवाज उठाएंगे.  इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट में, हाल ही में लोकसभा में नेता विपक्ष बने गांधी ने एक वीडियो संदेश भी साझा किया.  लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष का पद 10 साल के अंतराल के बाद भरा गया है.  उन्होंने कहा, “विपक्ष का नेता हर भारतीय के पास सबसे मजबूत लोकतांत्रिक साधन है. मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि मैं आपकी समस्याओं और मुद्दों को संसद में पूरी ताकत से उठाकर आपकी आवाज बुलंद करूंगा. ”संदेश में राहुल गांधी युवाओं से बात करते हुए नजर आ रहे हैं, जिन्होंने कहा कि नीट परीक्षा फिर से आयोजित कराना उनकी मांग है. इसके बाद विपक्ष के नेता द्वारा 28 जून को लोकसभा में इस मुद्दे को उठाने का एक और ‘वीडियो क्लिप’ दिखाया गया है. इसमें राहुल गांधी की अग्निवीर अजय सिंह (23) के परिवार के साथ मुलाकात की क्लिप भी दिखाई गई है, जो जनवरी में जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में बारूदी सुरंग विस्फोट में शहीद हो गए थे. वह वीडियो में मणिपुर में हिंसा के पीड़ितों के साथ ही अन्य लोगों से भी मुलाकात करते नजर आए.ये भी पढ़ें-:लोकसभा चुनाव में BJP की जीत के बाद नरेंद्र मोदी के तीसरे कार्यकाल पर जर्मनी ने मोदी 3.0 समारोह का किया आयोजन”एक पेड़ अपनी मां के नाम पर जरूर लगाएं…”, ‘मन की बात’ में पीएम नरेंद्र मोदी की अपील

राहुल गांधी ने रविवार को कहा कि विपक्ष का नेता हर भारतीय के लिए सबसे मजबूत लोकतांत्रिक साधन है और वह इस भूमिका में संसद में भारत के लोगों की आवाज उठाएंगे.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button