Quick Feed

बेंगलुरू की अदालत ने पूर्व सांसद प्रज्वल को आठ जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजा

बेंगलुरू की अदालत ने पूर्व सांसद प्रज्वल को आठ जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजाजनता दल (सेक्युलर) के पूर्व सांसद प्रज्वल रेवन्ना को यहां की एक अदालत ने शनिवार को आठ जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया. प्रज्वल पर कई महिलाओं का यौन उत्पीड़न और दुष्कर्म करने का आरोप है. चार दिन की विशेष जांच टीम (एसआईटी) की हिरासत आज समाप्त होने के बाद प्रज्वल को 42वें अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अदालत के न्यायाधीश के समक्ष पेश किया गया.प्रज्वल रेवन्ना को सोमवार को आठ जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था, लेकिन बाद में पुलिस द्वारा विशेष लोक अभियोजक (एसपीपी) के माध्यम से ‘बॉडी वारंट’ का अनुरोध करने पर मजिस्ट्रेट अदालत के न्यायाधीश ने उन्हें 29 जून तक विशेष जांच दल (एसआईटी) की हिरासत में भेज दिया था.पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा के 33 वर्षीय पोते के खिलाफ चार अलग-अलग मामले दर्ज किए गए हैं, जिनकी जांच एसआईटी कर रही है. प्रज्वल हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव के दौरान हासन निर्वाचन क्षेत्र से हार गए थे.हासन में 26 अप्रैल को लोकसभा चुनाव से पहले कथित तौर पर प्रज्वल रेवन्ना से जुड़े आपत्तिजनक वीडियो वाले ‘पेन-ड्राइव’ प्रसारित होने के बाद यौन शोषण के मामले सामने आए. मामले दर्ज होने के बाद जनता दल (सेक्युलर) ने भी उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था.ये भी पढ़ें:- डेटिंग ऐप से जरा संभल के! ऐसे ठगी का शिकार हो रहे हैं लोग, दिल्ली पुलिस ने कर दिया खुलासा

प्रज्वल रेवन्ना को सोमवार को आठ जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था, लेकिन बाद में पुलिस द्वारा विशेष लोक अभियोजक (एसपीपी) के माध्यम से ‘बॉडी वारंट’ का अनुरोध करने पर मजिस्ट्रेट अदालत के न्यायाधीश ने उन्हें 29 जून तक विशेष जांच दल (एसआईटी) की हिरासत में भेज दिया था.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button