Quick Feed

हिंदू समाज को सोचना होगा, ये अपमान संयोग या प्रयोग… राहुल गांधी के हिंदुत्व वाले बयान पर बोले PM मोदी

हिंदू समाज को सोचना होगा, ये अपमान संयोग या प्रयोग… राहुल गांधी के हिंदुत्व वाले बयान पर बोले PM मोदी 18वीं लोकसभा के पहले सत्र के सातवें दिन मंगलवार (2 जुलाई) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण से जुड़े धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में चर्चा का जवाब दिया. पीएम मोदी जैसे ही बोलने के लिए खड़े हुए, विपक्षी सांसदों ने जोरदार हंगामा कर दिया. कुछ देर पीएम ने अपनी बात रखी, लेकिन विपक्ष ने फिर से जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी. ऐसे में कुछ सेकेंड के लिए पीएम मोदी ने अपना भाषण रोक दिया और सीट पर बैठ गए. पीएम के संबोधन के बीच विपक्षी सांसद वेल में आकर नारेबाजी करने लगे. इसपर स्पीकर ओम बिरला भड़क गए. स्पीकर ने विपक्षी सांसदों को फटकार लगाई. उन्होंने नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी से कहा कि आपको 90 मिनट बोलने का मौका दिया. आप इतनी बड़ी पार्टी लेकर चल रहे हो, ऐसा नहीं चलता है. पांच साल ऐसे ही नहीं चलेगा.पीएम मोदी ने अपने भाषण में एक वादा किया. उन्होंने कहा- “हम 3 करोड़ बहनों को लखपति दीदी बनाने का संकल्प लेकर चले हैं. हमारे तीसरे टर्म में 3 गुना स्पीड से काम करेंगे, 3 गुना शक्ति लगाएंगे, देशवासियों को 3 गुना परिणाम लाकर के देंगे.” यहां पढ़िए पीएम मोदी के भाषण की खास बातें:-हिंदू आतंकवाद गढ़ने की कोशिश कीपीएम ने कहा, ‘कल जो हुआ, देश के कोटि-कोटि देशवासी इसे माफ नहीं करेंगे. ये गंभीर बात है कि हिंदुओं पर आरोप लगाने का झूठा षड्यंत्र हो रहा है. क्या हिंदू हिंसक होते हैं? ये है आपकी सोच, आपका चरित्र. ये देश शताब्दियों इसे भूलने वाला नहीं है. इन लोगों ने हिंदू आतंकवाद गढ़ने की कोशिश की थी. इन्होंने शक्ति के विनाश की बात कही थी. देश इन्हें माफ नहीं करेगा। देश की संस्कृति-परंपरा का मजाक उड़ाना, इसे फैशन बना दिया गया है. सदन में कल का दृश्य देखकर अब हिंदू समाज को सोचना पड़ेगा कि क्या ये अपमान कोई संयोग है या बड़े प्रयोग की तैयारी है.”झूठ की परंपरा को लेकर हो कठोर कार्रवाई पीएम मोदी ने कहा कि सदन में इस झूठ की परंपरा को लेकर कठोर कार्रवाई करेंगे, ऐसी अपेक्षा है. निजी राजनीतिक स्वार्थ के लिए ईश्वर के रूपों का इस तरह से खेल. सदन में कल का दृश्य देखकर अब हिंदू समाज को सोचना पड़ेगा कि क्या ये अपमान कोई संयोग है या बड़े प्रयोग की तैयारी है.    कांग्रेस ने संविधान को लेकर हमेशा झूठ बोलापीएम मोदी ने कहा, “कांग्रेस ने संविधान को लेकर हमेशा झूठ बोला है. आपातकाल का ये 50वां साल है. सत्ता के लोभ के खातिर, तामसिक मानसिकता के चलते इमरजेंसी थोपी गई. इसमें कांग्रेस क्रूरता की सभी हदें पार गई. सरकारें गिराना, मीडिया को दबाना, हर काम में संविधान की धारा, भावना और हर शब्द के खिलाफ काम किया.”

नेता प्रतिपक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने हिंदुत्व, अयोध्या, जम्मू-कश्मीर, अग्निवीर स्कीम समेत कई अहम मुद्दों को लेकर BJP पर निशाना साधा था. उन्होंने दावा किया कि ये लोग हिंदू नहीं हैं. राहुल के इस दावे का विरोध जताने के लिए खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी अपनी जगह से खड़े हो गए थे.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button