Quick Feed

NDTV कॉन्क्लेव : MP के सीएम डॉ. मोहन यादव ने की पेपर लीक के खिलाफ सख्त कदम उठाने की घोषणा

NDTV कॉन्क्लेव : MP के सीएम डॉ. मोहन यादव ने की पेपर लीक के खिलाफ सख्त कदम उठाने की घोषणाभोपाल में आयोजित NDTV MPCG MSME कॉन्क्लेव में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव (Mohan Yadav) ने राज्य में पेपर लीक (Paper Leak) की समस्या से निपटने के लिए कड़े कदम उठाने की घोषणा की है. NDTV संवाददाता अनुराग द्वारी से बात करते हुए डॉ. यादव ने बताया कि एक नया कानून प्रस्तावित है, जिसमें पेपर लीक में शामिल लोगों के लिए 10 साल की कैद और एक करोड़ रुपये के जुर्माने का प्रावधान है. इसे गैर-जमानती अपराध की श्रेणी में रखा गया है. डॉ. यादव ने कहा, “बहुत जल्द एक प्रस्ताव आएगा कि 10 साल की कैद और सख्त कार्रवाई होगी. आज मैं विधानसभा के अंदर से लौटा हूं, हमने कई फैसले लिए हैं, जिनमें सख्त कार्रवाई की बात भी शामिल है.”कुलपति की परंपरा हमारी नहीं : डॉ. यादवइसी साक्षात्कार में डॉ. यादव ने मध्य प्रदेश में कुलपतियों के लिए सांस्कृतिक रूप से महत्वपूर्ण नामों की शुरुआत पर चर्चा की. उन्होंने पारंपरिक प्रशासनिक उपाधियों से हटकर सांस्कृतिक विरासत से फिर से जुड़ने के महत्व पर जोर दिया. डॉ. यादव ने बताया, “हम संस्कृति से जुड़ने के लिए नए नाम लेकर आए हैं. भारत में हजारों सालों से कुल गुरु की परंपरा रही है, जबकि कुलपति की परंपरा हमारी नहीं है. इन शब्दों में आत्मीयता होनी चाहिए, इसलिए हमने अब कुलपति का विचार किया है.”बोरवेल सुरक्षा पर विधेयक पारितबोरवेल में बच्चों के गिरने के मुद्दे पर बात करते हुए डॉ. यादव ने ऐसी दुर्घटनाओं को रोकने के उद्देश्य से बनाए गए नए कानून पर प्रकाश डाला. उन्होंने बोरवेल सुरक्षा सुनिश्चित करने में पंचायत अधिकारियों और निजी मालिकों की जवाबदेही पर जोर दिया. डॉ. यादव ने कहा, “अगर किसी का ट्यूबवेल खाली या खुला रहता है, चाहे वह पंचायत में हो या निजी, तो कार्रवाई की जाएगी. अगर ऐसा होता है, तो एफआईआर दर्ज की जाएगी और कार्रवाई की जाएगी. लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.”मंत्री अपना आयकर खुद भरेंगे : CM यादव मध्य प्रदेश सरकार द्वारा अपने मंत्रियों का आयकर चुकाने के बारे में एनडीटीवी की रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए डॉ. यादव ने कहा, “मुझे संतुष्टि है कि अब हमारे मंत्री अपना आयकर खुद भरेंगे. हम राजघराने के लोग नहीं हैं, हम चुने हुए लोग हैं. हम समाज के बीच से आते हैं और कर संग्रह का महत्व समझते हैं.” उन्होंने कहा कि अब मंत्रीगण, जिनमें वे स्वयं भी शामिल हैं, अपना आयकर भरेंगे.नर्सिंग घोटाले पर हंगामे पर प्रतिक्रियाएनडीटीवी द्वारा उजागर नर्सिंग घोटाले पर सदन में कांग्रेस के हंगामे के बारे में डॉ. यादव ने कहा कि सरकार चर्चा और कानूनी प्रक्रियाओं के लिए तैयार है. उन्होंने कहा, “ऐसे कई विषय हैं जिन पर कुछ कानूनी समस्याएं हैं. हम नियमों और कानूनों के तहत किसी भी चर्चा के लिए हमेशा तैयार हैं.” उन्‍होंने कहा, “विपक्ष को अच्छी तैयारी के साथ आना चाहिए और जनता के सामने अपना मुद्दा रखना चाहिए. अगर कोई गलती है तो हम उसे स्वीकार करेंगे, लेकिन बिना किसी गलती के हमें मजबूर करना ठीक नहीं है, सभी को अपनी मर्यादा में रहना चाहिए.”ये भी पढ़ें :* गजब संयोग: पांचवीं साथ, NDA में साथ और अब… देश के आर्मी और नेवी चीफ की यह कहानी गजब है* Video: नशा मुक्ति के लिए ‘बेलन गैंग’ का अजीब सुझाव देकर विवाद में फंसे मध्य प्रदेश के मंत्री* “धोखा क्यों दिया…” कहकर ब्यूटी पालर में सज रही दुल्हन की जान लेने वाले प्रेमी ने की खुदकुशी

NDTV MPCG MSME कॉन्क्लेव में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने पेपर लीक को लेकर प्रस्‍तावित कानून का जिक्र किया और बताया कि इसमें 10 साल की कैद और एक करोड़ रुपये के जुर्माने का प्रावधान है.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button