Quick Feed

पश्चिम बंगाल पिटाई मामला : NHRC ने लिया स्‍वत: संज्ञान, मुख्‍य सचिव और डीजीपी से मांगा जवाब

पश्चिम बंगाल पिटाई मामला : NHRC ने लिया स्‍वत: संज्ञान, मुख्‍य सचिव और डीजीपी से मांगा जवाबराष्‍ट्रीय मानवाधिकार आयोग (National Human Rights Commission) ने पश्चिम बंगाल के उत्तरी दिनाजपुर में एक दंपत्ति की पिटाई की घटना को गंभीरता से लेते हुए स्‍वत: संज्ञान लिया है. उत्तरी दिनाजपुर में कथित तौर में एक राजनीतिक दल से जुड़े लोगों ने सार्वजनिक रूप से एक पुरुष और एक महिला जमकर पिटाई की थी. आयोग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि राज्‍य के अधिकारियों ने पूर्व में इस तरह की घटनाओं से और न ही एनएचआरसी द्वारा उठाई गई चिंताओं से कोई सबक लिया है. साथ ही एनएचआरसी ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी किया है और एक सप्ताह में विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. एनएचआरसी ने अपने बयान में कहा कि मामले की गंभीरता को देखते हुए और जांच के लिए मौके पर अपनी टीम भेजने का भी फैसला किया है. इसके लिए आयोग ने अपने महानिदेशक (जांच) को तुरंत एक अधिकारी की अध्यक्षता में टीम गठित करने के लिए कहा है, जो कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पद से नीचे न हो. साथ ही घटनास्थल का दौरा करने और जल्द आयोग को एक रिपोर्ट सौंपने के लिए भी कहा गया है. उत्तरी दिनाजपुर के चोपड़ा डिवीजन का है मामला एनएचआरसी ने मीडिया रिपोर्ट के वीडियो का हवाला देते हुए कहा कि उत्तरी दिनाजपुर जिले के चोपड़ा डिवीजन के लक्ष्मीपुर गांव में कथित तौर पर एक राजनीतिक विचारधारा से जुड़े लोगों द्वारा सार्वजनिक रूप से बेरहमी से एक महिला और एक पुरुष को पीटने के मामले में स्वत: संज्ञान लिया है. आरोपी पर सत्तारूढ़ दल से जुड़े होने का आरोप मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित जोड़े के बीच प्रेम संबंध के आरोपों पर नाराज ग्रामीणों ने पंचायत में चर्चा की थी. आरोप है कि तभी बदमाशों ने दोनों को पीटना शुरू कर दिया. मुख्य आरोपी कथित तौर पर पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ राजनीतिक दल से जुड़ा है और उसे वायरल वीडियो में लोगों की भीड़ से घिरे जोड़े को गंभीर रूप से पीटते देखा जा सकता है. आयोग ने बयान में कहा कि यदि यह न्‍यूज रिपोर्ट सच है तो यह दंपत्ति के मानवाधिकारों के उल्लंघन का गंभीर मुद्दा उठाती है. राज्‍यपाल ने घटना को लेकर सीएम से मांगी रिपोर्ट बता दें कि इस घटना को लेकर पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सीवी आनंद बोस ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से घटना के संबंध में रिपोर्ट मांगी है, वहीं भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर राज्य में ‘‘तालिबान राज” का आरोप लगाया है. पिटाई करने वाले व्यक्ति की पहचान ताजमुल उर्फ ‘जेसीबी’ के रूप में की गई है. दावा किया गया है कि वह स्थानीय तृणमूल कांग्रेस का नेता है. उसे गिरफ्तार कर लिया गया है. ये भी पढ़ें :* पश्चिम बंगाल में बीच सड़क पर महिला की बेरहमी से पिटाई, BJP ने कहा- “TMC के शासन में…”* पश्चिम बंगाल के एक स्कूल में बंदूक लेकर पहुंचे 2 छात्र, गार्ड से बदला लेने के लिए की यह हरकत* EXPLAINER : तीस्ता पर भारत-बांग्लादेश की बातचीत पर ममता को आपत्ति; ‘मौके’ की तलाश में चीन

NHRC ने अपने बयान में कहा कि मामले की गंभीरता को देखते हुए और जांच के लिए मौके पर अपनी टीम भेजने का भी फैसला किया है. 
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button