Quick Feed

राजभर के विधायक बेदी राम ने पेपर लीक मामले में गिरफ्तारी की खबरों को बताया अफवाह, कहा- ‘ये फंसाने की साजिश’

राजभर के विधायक बेदी राम ने पेपर लीक मामले में गिरफ्तारी की खबरों को बताया अफवाह, कहा- ‘ये फंसाने की साजिश’

नीट पेपर लीक मामले में उत्तर प्रदेश के विधायक बेदी राम का नाम खूब चर्चा में है. चर्चा उड़ रही कि विधायक को यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार भी कर लिया. लेकिन जिस विधायक की गिरफ्तारी की बात की चर्चा है, उस विधायक बेदी राम ने एनडीटीवी से बात की. सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक बेदी राम ने दावा किया है कि उनका एक कथित वीडियो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से बनाया डीप फेक वीडियो है.उन्होंने कहा कि मीडिया और सोशल मीडिया में उनको लेकर अफवाह उड़ाई गई कि उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया. अगर मुझे गिरफ्तार किया जाता तो एनडीटीवी के कैमरा पर अपना पक्ष रखने कैसे आता? ग़ाज़ीपुर से जखनिया विधानसभा सीट से सुभासपा विधायक बेदिराम ने दावा किया कि वायरल वीडियो उनके ख़िलाफ़ साज़िश का नतीजा है.बेदी राम का कहना है कि विपक्ष CM योगी आदित्यनाथ को, सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को बदनाम करने के लिए उन्हें मोहरा बनाया है. उन्होंने कहा कि वो सभी तरह की जांच के लिये तैयार हैं. अगर उनका दोष साबित हुआ तो वो राजनीति से संन्यास ले लेंगे.बेदी राम ने मांग की कि अगर उनके खिलाफ लगे आरोप झूठे साबित हुए तो विपक्ष पर भी कार्रवाई होनी चाहिए. साल 2014 में बेदीराम पर दर्ज मुकदमे के सवाल पर बेदिराम ने कहा कि राजनीतिक कारणों से उनके खिलाफ पेपर लीक का एक मुकदमा दर्ज किया गया था, जिसमें जांच के बाद उन्हें क्लीन चिट दे दी गई. अब विपक्ष उस मामले को उठा रहा है, जिसमें क्लीन चिट मिल चुकी है. इसी तरह इस बार भी उन्हें झूठे मामले में फंसाने की साजिश की जा रही है.ये भी पढ़ें:- दिल्ली शराब नीति मामला: राउज एवेन्यू कोर्ट ने CM केजरीवाल को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा

बेदी राम का कहना है कि विपक्ष CM योगी आदित्यनाथ को, सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर को बदनाम करने के लिए उन्हें मोहरा बनाया है. उन्होंने कहा कि वो सभी तरह की जांच के लिये तैयार हैं. अगर उनका दोष साबित हुआ तो वो राजनीति से संन्यास ले लेंगे.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button