Quick Feed

उत्तराखंड : कुमाऊं में मौसम विभाग का रेड अलर्ट, अगले 4 दिन भारी से बहुत भारी बारिश बढ़ा सकती है मुश्किल

उत्तराखंड : कुमाऊं में मौसम विभाग का रेड अलर्ट, अगले 4 दिन भारी से बहुत भारी बारिश बढ़ा सकती है मुश्किलउत्तराखंड (Uttarakhand) के कुमाऊं रीजन में भारी से बहुत भारी बारिश और कुछ स्‍थानों पर अत्‍यंत भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग में कहा है कि कुमाऊं रीजन के कई जिलों में 2 जुलाई से 5 जुलाई के बीच भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है, इसलिए एहतियातन सुरक्षा और बचाव की तैयारी पूरी रखी जाए. साथ ही मौसम विभाग ने भारी से बहुत भारी बारिश के रेड अलर्ट को देखते हुए स्कूलों को भी बंद करने की सलाह दी है. मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 02 जुलाई को अलग-अलग स्थानों पर भारी (64.5-115.5 मिलीमीटर) से बहुत भारी वर्षा (115.5-204.4 मिलीमीटर) के साथ अत्यंत भारी वर्षा (204.4 मिलीमीटर से अधिक) होने की प्रबल संभावना जताई है. उत्तराखंड में 02 जुलाई, 2024 को अलग-अलग स्थानों पर भारी (64.5-115.5 मिलीमीटर) से बहुत भारी वर्षा (115.5-204.4 मिलीमीटर) के साथ अत्यंत भारी वर्षा (>204.4 मिलीमीटर) होने की प्रबल संभावना है pic.twitter.com/wNBlaNhzcQ— India Meteorological Department (@Indiametdept) July 1, 2024उत्तराखंड के टिहरी में 2 जुलाई से 5 जुलाई के बीच भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, इसी के साथ देहरादून, पौड़ी, हरिद्वार जिले में 5 जुलाई तक भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट है. इसके साथ ही मौसम विभाग ने पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा ,चंपावत, नैनीताल, उधमसिंह नगर में 2 जुलाई से 4 जुलाई तक भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज जारी किया है. हरिद्वार में बरसाती नदी में बह गए वाहन दरअसल, उत्तराखंड में मानसून अपनी दस्तक दे चुका है और इस दौरान उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश हुई है. शनिवार को भारी बारिश के चलते हरिद्वार में बरसाती नदी में अचानक पानी बढ़ने से वहां पर कई वाहन पानी में बहते नजर आए थे. इसके साथ ही कई जगहों पर बारिश की वजह से भूस्खलन, और नदियों के जलस्तर में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. उत्तराखंड मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक, प्रदेश में अगले एक हफ्ते तक कई जिलों में लगातार बारिश रहेगी. इसके अलावा मौसम विभाग ने कुमाऊं रीजन में भारी से बहुत भारी बारिश का रेड अलर्ट भी जारी किया है. इसके अलावा देहरादून, हरिद्वार, पौड़ी, उधमसिंह नगर, बागेश्वर और नैनीताल में भारी से बहुत भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. नदियों के जलस्‍तर में बढ़ोतरी की भी आशंका मौसम विभाग के निदेशक के मुताबिक, इस दौरान यात्री और आम लोग पहाड़ों पर आने से पहले मौसम की सटीक जानकारी लेकर ही अपनी यात्रा शुरू करें. उन्‍होंने कहा कि भारी बारिश के चलते लैंडस्लाइड और पहाड़ों से पत्थरों के गिरने की भी संभावना बनी रहती है, इसलिए यात्रा में जितना हो सके सावधानी से यात्रा करें. वहीं नदियों के किनारे रहने वाले लोगों से भी अपील की गई है कि भारी बारिश के चलते नदियों के जलस्तर में बढ़ोतरी हो सकती है और मैदानी इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति भी आ सकती है, इसलिए ऐहतियातन सुरक्षा बरती जाए. मौसम विभाग ने जारी की है एडवाइजरी मौसम विभाग ने भारी से बहुत भारी बारिश के अलर्ट के मद्देनजर राज्य आपदा प्रबंधन विभाग पुलिस और जिला प्रशासन को अपनी एडवाइजरी और अलर्ट की जानकारी भेज दी है. मौसम विभाग ने 2 जुलाई से 5 जुलाई तक अलर्ट को लेकर जो एडवाइजरी जारी की है, उसमें मौसम विभाग ने कहा है कि कहीं-कहीं बिजली भी गिर सकती है. मौसम विभाग ने जिले के प्रशासनिक अधिकारियों को इस अवधि के दौरान स्कूल बंद कर रखने की सलाह भी दी है और राज्य सरकार के अधिकारियों को लोगों को सुरक्षा की दृष्टि से आवश्यक कार्रवाई करने की सलाह दी गई है. ये भी पढ़ें :* आसमान में हवाओं में चल रहा ‘अजब युद्ध’, समझिए क्यों हो रही इतनी भारी बारिश* दिल्ली में बारिश के कारण हादसों में जान गंवाने वालों के परिजनों को मिलेगा 10 लाख का मुआवजा* दिल्ली से लेकर हिमाचल प्रदेश तक होगी भारी बारिश, आईएमडी ने जारी किया अलर्ट

उत्तराखंड में मानसून अपनी दस्तक दे चुका है और इस दौरान उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश हुई है. वहीं मौसम‍ विभाग ने कुमाऊं रीजन में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button