Quick Feed

शख्स ने उगाई ऐसी अनोखी घास, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया नाम

शख्स ने उगाई ऐसी अनोखी घास, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया नामपेड़-पौधे हमारे जिंदगी में कितना महत्व रखते हैं ये तो हम सभी जानते हैं. इनके बिना जीवन की कल्पना तक नहीं की जा सकती. पर्यावरण संरक्षण के लिए अधिक से अधिक पौधारोपण करने पर जोर रहता है, लेकिन लगाए गए पौधों की देखभाल बेहद जरूरी है. आज के समय में ज्यादातर लोग अपने घरों में, बालकनी या फिर बगीचे में एक से बढ़कर एक पेड़-पौधे लगाते हैं, लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि, ये ही पेड़-पौधे उगाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया जा सकता है? हाल ही में जापान के एक शख्स ने कुछ ऐसा ही कर दिखाया है, जिसके चलते उसका नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गया है.जापान के रहने वाले योशीहारू वतनबे को दुनिया का सबसे भाग्यशाली व्यक्ति भी माना जा रहा है, जिन्होंने 63 अलग-अलग पत्तियों वाला क्लोवर यानी तिपतिया घास उगाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है. दरअसल, जापान में ऐसी मान्यता है कि इस घास में जितनी ज्यादा पत्तियां होती हैं, उसे पाने वाला उतना ही भाग्यशाली होता है. कहा जा रहा है कि, ऐसा करने वाले वह दुनिया के पहले शख्स हैं.ऑडिटी सेंट्रल नामक वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2009 से योशीहारू वतनबे ने तीन से ज्यादा पत्तियों वाले तिपतिया घास को चुनकर उन्हें अपने घर के बगीचे में लगाना शुरू किया. उन्होंने ये पहले ही सोच रखा था कि, 20 पत्तियों वाला तिपतिया घास उगाकर वे वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे.बताया जा रहा है कि, इसके लिए योशीहारू वतनबे ने सबसे पहले पौधे का क्रॉस-पॉलिनेशन कराया था और फिर गजब के नतीजे सामने आए. रिजल्ट ये रहा कि उनके बगीचे में 63 पत्तियों वाला तिपतिया घास उग गया. इस पर योशीहारू वतनबे ने कहा कि, ‘इसकी पत्तियों की संख्या गिनना मुश्किल था. जब मैंने इस रिकॉर्ड तोड़ने वाले तिपतिया घास को गिना, तो मुझे एक घंटे से ज्यादा समय लगा.’ बता दें कि, योशीहारू वतनबे से पहले साल 2009 में 56 पत्तियों वाला तिपतिया घास उगाकर शिगेओ ओबरा ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था, जिसे योशीहारू वतनबे ने तोड़ दिया.ये Video भी देखें:-

इन दिनों एक शख्स दुनिया का सबसे भाग्यशाली व्यक्ति भी माना जा रहा है, जिन्होंने 63 अलग-अलग पत्तियों वाला क्लोवर यानी तिपतिया घास उगाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button