Quick Feed

बजट में क्या-क्या होगा, दिया संकेत, जानिए राष्ट्रपति के अभिभाषण की बड़ी बातें

बजट में क्या-क्या होगा, दिया संकेत, जानिए राष्ट्रपति के अभिभाषण की बड़ी बातेंPresident Droupadi Murmu Speech: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अपने अभिभाषण की शुरुआत में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और चुने हुए सांसदों और देशवासियों को बधाई दी. उन्होंने कहा कि  मैं 18वीं लोकसभा के सभी नव निर्वाचित सदस्यों को बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं देती हूं. आप सभी यहां मतदाताओं का भरोसा जीतकर आए हैं. देश सेवा और जन सेवा का मौका बहुत कम लोगों को मिलता है. सरकार ने सेवा और सुशासन की मुहिम चलाई है. 18वीं लोकसभा कई मायनों में ऐतिहासिक लोकसभा है. यह अमृतकाल के शुरुआती सालों में स्थापित हुई है.कश्मीर में टूटा वोटिंग का रिकॉर्डये दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव था. करीब 64 करोड़ मतदाताओं ने उत्साह और उमंग के साथ अपना कर्तव्य निभाया है. इस बार भी महिलाओं ने बढ़-चढ़ कर मतदान में हिस्सा लिया. इस चुनाव की बहुत सुखद तस्वीर जम्मू-कश्मीर से भी सामने आईं. कश्मीर घाटी में वोटिंग के अनेक दशकों के रिकॉर्ड टूट गए.मैक्युफैक्चरिंग, सर्विसेज और एग्रीकल्चर को महत्वमेरी सरकार अर्थव्यवस्था के तीनों स्तंभों -विनिर्माण, सेवाएं और कृषि को बराबर महत्व दे रही है. PLI योजनाओं और व्यापार करने में आसानी से बड़े पैमाने पर निवेश और रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं. पारंपरिक सेक्टर्स के साथ-साथ सनराइज सेक्टर्स को भी मिशन मोड पर बढ़ावा दिया जा रहा है.साल 2021 से लेकर साल 2024 तक भारत ने औसतन आठ प्रतिशत की रफ्तार के हिसाब से विकास किया है.यह ग्रोथ सामान्य स्थितियों में नहीं हुई है. इस दौरान दुनिया ने बड़ी आपदा देखी है. भारत दुनिया के ग्रोथ में अकेले 15 प्रतिशत का योगदान दे रही है. सरकार अर्थव्यवस्था के तीनों स्तंभों मैक्युफैक्चरिंग, सर्विसेज और एग्रीकल्चर को बराबर महत्व दे रही है.बजट में दिखेंगे ऐतिहासिक कदमजनता को मेरी सरकार पर भरोसा है. मेरी सरकार को निरंतरता में विश्वास है. हमें विकसित भारत के संपल्प में भरोसा है. रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफार्म के संकल्प ने आज भारत को दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना दिया है. भारत की विकास गति को तेज किया जाएगा. ग्रोथ की निरंतरता मेरी सरकार की गारंटी है. आने वाले बजट में ऐतिहासिक कदम दिखेंगे. किसानों को 20 हजार करोड़ ट्रांसफर किए गए. हम किसानों को ज्यादा से ज्यादा आत्मनिर्भर बनाएंगे. बजट में बड़े आर्थिक और सामाजिक निर्णयों के साथ ऐतिहासिक निर्णय भी देखने को मिलेंगे. भारत के तेज विकास के लिए रिफॉर्म्स की गति और तेज की जाएगी. किसानों को 20 हजार करोड़ से ज्यादा दिएसहकारी क्षेत्र में दुनिया की सबसे भंडारण योजना लाई गई. पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 3 लाख 20 हजार करोड़ रुपए दिए. नए साल के कार्यकाल के शुरुआत में ही किसानों को 20 हजार करोड़ से अधिक की राशि ट्रांसफर की जा चुकी है. खरीफ फसलों के एमएसपी पर रिकॉर्ड बढ़ोतरी की है. ऑर्गेनिक उत्पादों की डिमांड को देखते हुए सप्लाई चेन को सशक्त किया जा रहा है. आजकल दुनिया में जैविक उत्पादों की मांग तेजी से बढ़ रही है. देश के किसानों के पास इस मांग को पूरा करने की पूरी क्षमता है, इसलिए सरकार प्राकृतिक खेती और इससे जुड़े उत्पादों की सप्लाई चेन को सशक्त कर रही है.जलवायु परिवर्तन पर सरकार का प्लानआने वाला समय ग्रीन एरा यानि हरित युग का है. सरकार इसके लिए भी हर ज़रूरी कदम उठा रही है. हम हरित उद्योगों पर निवेश बढ़ा रहे हैं, जिससे ग्रीन जॉब भी बढ़े हैं. सरकार ग्रीन एनर्जी और ग्रीन मोबिलिटी पर बड़े लक्ष्यों के साथ काम कर रही है. प्रदूषण और साफ सुधरे शहरों पर पिछले 10 साल से काम किया जा रहा है. हवाई यात्रा पर सरकार का प्लानअप्रैल 2014 में भारत में 209 एयरलाइन रूट्स थे. अप्रैल 2024 में ये बढ़कर  605 हो हए हैं. टियर टू और टियर थ्री शहरों को फायदा हो रहा है.नेशनल हाइवे पर सरकार का प्लाननेशनल हाइवे दोगुनी रफ्तार से बढ़ रहे हैं. उत्तर पूर्वी दक्षिणी भारत के बुलेट ट्रेन कॉरिडोर के लिए फिजिबिलिटी पर काम किया जा रहा है.महिलाओं के लिए सरकार का प्लानतीसरे कार्यकाल की शुरुआत में ही सरकार ने 3 करोड़ नए घर बनाने की स्वीकृति दे दी है. अधिकतर घर महिलाओं के नाम पर होंगे. 3 करोड़ महिलाओं को लखपति दीदी बनाने के लिए व्यापक अभियान चलाया जा रहा है. कृषि सखियों कार्यक्रम के जरिए 30 हजार महिलाओं को आधुनिक खेती की ट्रेनिंग दी जा रही है. महिलाएं अधिक बचत कर सकें, बिजली का बिल जीरो करने की योजना लाई है. सोलर पैनल के लिए प्रति परिवार 78 हजार तक की मदद कर रही है.कानून पर सरकार का प्लान1 जुलाई से भारतीय न्याय संहिता लागू होगी. अब दंड की जगह न्याय को प्राथमिकता मिलेगी. सरकार ने गुलामी के दौर की व्यवस्था को खत्म कर दिया है. हमारी सफलता हमारी साझी धरोहर है. पेपर लीक की जांच करवाएंगेरकार पेपर लीक की घटनाओं को रोकने के लिए सख्त उपाय कर रही है. इस पर पिछले दिनों कानून भी आ चुका है. पेपर लीक की जांच के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. पेपर लीक की निष्पक्ष जांच करवाई जाएगी. परीक्षा में पारदर्शिता और निष्पक्षिता जरूरी है. CAA पर सरकार ने क्या किया? सरकार की तरफ से CAA कानून के तहत शरणार्थियों को नागरिकता देना शुरू कर दिया गया है. इससे बंटवारे के पीड़ित अनेक परिवारों के लिए सम्मान का जीवन जीना तय हुआ है. जिन परिवारों को CAA के तहत नागरिकता मिली है, मैं उनके बेहतर भविष्य की कामना है. 

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Droupadi Murmu) लोकसभा और राज्यसभा के जॉइंट सेशन को संबोधित करते हुए अगले 5 सालों के लिए सरकार के कामकाज का रोडमैप प्रस्तुत किया और पिछली सरकार की उपलब्धियां भी गिनवाईं.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button