Quick Feed

क्या अगले साल G7 में पीएम मोदी को आमंत्रित करेगा कनाडा? जस्टिन ट्रूडो ने दिया यह जवाब

क्या अगले साल G7 में पीएम मोदी को आमंत्रित करेगा कनाडा? जस्टिन ट्रूडो ने दिया यह जवाबअगले साल होने वाले जी7 शिखर सम्मेलन (G7 Summit) की अध्यक्षता कनाडा (Canada) करेगा. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) ने कहा है कि तब उनके पास कहने के लिए बहुत कुछ होगा. पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कनाडा के लोगों की जी7 शिखर सम्मेलन के प्रति उत्सुकता को लेकर सराहना की. ट्रूडो ने कहा कि वे इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी और सभी जी7 भागीदारों के साथ विभिन्न मुद्दों पर काम करने के लिए उत्सुक हैं. उन्होंने विभिन्न मुद्दों पर नेताओं से चर्चा की है.यह पूछे जाने पर कि क्या कनाडा 2025 के जी7 शिखर सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को आमंत्रित करेगा, ट्रूडो ने जवाब दिया, “मैं इस बात की सराहना कर सकता हूं कि कनाडा के लोग अगले साल के जी7 का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. हालांकि, इटली इस साल के बाकी समय के लिए जी7 का अध्यक्ष बना रहेगा और मैं प्रधानमंत्री मेलोनी और मेरे सभी जी7 भागीदारों के साथ उन व्यापक मुद्दों पर काम करने के लिए उत्सुक हूं, जिन पर हमने बात की है. अगले साल के जी7 के बारे में मेरे पास कहने के लिए और भी बहुत कुछ होगा, जब हम जी7 की अध्यक्षता संभालेंगे.”इस बार जी-7 शिखर सम्मेलन 13 से 15 जून तक इटली के अपुलिया क्षेत्र में आयोजित किया गया. इसमें भारत को ‘आउटरीच देश’ के रूप में आमंत्रित किया गया था. इसमें सात सदस्य देशों अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, जर्मनी, इटली, जापान और फ्रांस के साथ-साथ यूरोपीय संघ ने भी भाग लिया.कनाडा करेगा अगले सम्मेलन की अध्यक्षताG7 नेताओं का अगला शिखर सम्मेलन 2025 में कनाडा के अल्बर्टा प्रांत के कनानास्किस में आयोजित किया जाएगा. एक्स पर एक पोस्ट में, कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो ने कहा, “अभी घोषणा की गई: अगला G7 नेताओं का शिखर सम्मेलन 2025 में यहां कनाडा में, कनानास्किस, अल्बर्टा में आयोजित किया जाएगा.”ट्रूडो का उक्त बयान शुक्रवार को इटली के अपुलिया में जी7 शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद आया है. दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात भारत और कनाडा के बीच तनावपूर्ण राजनयिक संबंधों के बीच पहली मुलाकात थी.एक्स पर एक पोस्ट में पीएम मोदी ने कहा, “जी7 शिखर सम्मेलन में कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो से मुलाकात की.”आतंकी निज्जर की हत्या के बाद से तनावपूर्ण संबंधपिछले साल कनाडा में आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के मामले में ट्रूडो ने “भारत सरकार के एजेंटों” पर आरोप लगाए थे. इसके बाद दोनों देशों के बीच संबंध तनावपूर्ण हो गए थे. हालांकि भारत ने आरोप “बेतुके” और “प्रेरित” बताते हुए उन्हें खारिज कर दिया है.हरदीप सिंह निज्जर को 2020 में भारत की राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने आतंकवादी घोषित किया था. उसकी पिछले साल जून में सरे में एक गुरुद्वारे के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.भारत ने कहा है कि कनाडा ने हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के मामले में कोई “विशिष्ट” सबूत या सटीक जानकारी नहीं दी है. इससे पहले मई में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कनाडा में आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारतीय नागरिकों की संलिप्तता को स्पष्ट करने वाला कोई भी सबूत मिलने से इनकार किया था.यह भी पढ़ें -“मिलकर काम करने को प्रतिबद्ध…”: कनाडा के प्रधानमंत्री ट्रूडो ने PM मोदी से मुलाकात पर कहाइटली की PM मेलोनी ने आधिकारिक तौर पर जी7 शिखर सम्मेलन का किया समापन

अगले साल होने वाले जी7 शिखर सम्मेलन (G7 Summit) की अध्यक्षता कनाडा (Canada) करेगा. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) ने कहा है कि तब उनके पास कहने के लिए बहुत कुछ होगा. पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कनाडा के लोगों की जी7 शिखर सम्मेलन के प्रति उत्सुकता को लेकर सराहना की. ट्रूडो ने कहा कि वे इटली की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी और सभी जी7 भागीदारों के साथ विभिन्न मुद्दों पर काम करने के लिए उत्सुक हैं. उन्होंने विभिन्न मुद्दों पर नेताओं से चर्चा की है.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button