भारत

Conversion online gaming : आरोपी शाहनवाज को कोर्ट में किया पेश, 15 दिन की मिली रिमांड

मुंबई। Conversion online gaming ऑनलाइन वीडियो गेम से धर्मांतरण की बड़ी साजिश का खुलासा हुआ है। मामले में फरार आरोपी शाहनवाज खान को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार किया। उसे सोमवार को कोर्ट पेश किया गया। कोर्ट ने 15 जून तक रिमांड दिया है।

Conversion online gaming मुंब्र पुलिस ने किया गिरफ्तार


Conversion online gaming दरअसल, ठाणे पुलिस ने 11 जून को ऑनलाइन धर्मांतरण के मामले में फरार चल रहे आरोपी शाहनवाज मकसूद खान उर्फ बद्दो (23 साल) को गिरफ्तार किया। आरोपी को महाराष्ट्र के रायगढ़ इलाके से दबोचा गया। शाहनवाज को गिरफ्तार किए जाने के बाद मुंब्रा पुलिस स्टेशन लाया गया। शाहनवाज के साथ उसके सहयोगी को भी पकड़ा है, जो कथित रूप से उसकी मदद कर रहा था। उसका नाम शाहजेब खान बताया गया है। मुंब्रा पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।

फॉलो करें क्लिक करें

Conversion online gaming
Conversion online gaming

उत्तर प्रदेश पुलिस को रिमांड


Conversion online gaming सोमवार को मुंब्रा निवासी शाहनवाज खान उर्फ बद्दो को मुंब्रा पुलिस स्टेशन से ठाणे कोर्ट ले जाया गया। यहां शाहनवाज खान को 15 जून तक ट्रांजिट रिमांड दिया गया। कोर्ट ने उत्तर प्रदेश पुलिस को जिम्मेदारी दी है। उत्तर प्रदेश पुलिस उसे सड़क मार्ग से मुंब्रा, ठाणे से उत्तर प्रदेश लेकर जाएगी।


जानें पूरा मामला

दिल्ली से सटे गाजियाबाद में ऑनलाइन गेमिंग के जरिए एक नाबालिग बच्चे का धर्मांतरण करने का मामला सामने आया। इस मामले में गाजियाबाद पुलिस ने मस्जिद के एक मौलवी को गिरफ्तार किया जा चुका है।Conversion online gaming बताया जा रहा है कि जिस मौलवी को गिरफ्तार किया गया है, उसने धर्मांतरण के आरोपों को कबूल कर लिया है।

मामले का खुलासा कैसे हुआ


गाजियाबाद के एक व्यक्ति ने मौलवी और एक अन्य व्यक्ति पर अपने बेटे का जबरन धर्मांतरण करवाने का आरोप लगाया। इसके बाद ऑनलाइन धर्मांतरण का खुलासा हुआ। व्यक्ति ने आरोप लगाया कि उसका ऑनलाइन गेम के जरिए मुंबई के रहने वाले बद्दो के संपर्क में आया था। इसके बाद उसके बेटे का इस्लाम की तरफ झुकाव होने लगा। उनके बेटे ने उन्हें बताया कि बद्दो के कहने पर उसने इस्लाम कबूल कर लिया है। बच्चे ने कहा कि घर से निकालोगे तो मस्जिद में रह लूंगा। उसकी बातें सुनकर परिवार पुलिस के पास पहुंचा।

आनलाइन गेम में बच्चों को फंसाने का आरोप

धर्मांतरण करने के लिए पहले बच्चों के साथ ऑनलाइन गेम खेला जाता। इसके बाद बच्चों से ऐप के जरिए चैटिंग की जाती और इस्लाम के फायदे बताए जाते।

Conversion online gaming इसमें शॉर्ट हैंडलर हिंदू नामों से आईडी बनाते थे। फिर हिंदू बच्चों को ‘Fortnite’ खेलने के लिए उकसाते थे। असली खेल तब शुरू होता था जब बच्चा गेम हार जाता। बच्चे को कहा जाता कि वो कुरान की आयत पढ़े तो जीत जाएगा। बच्चा आयत पढ़कर गेम खेलता तो साजिश के तहत उसे जितवा दिया जाता। इस तरह बच्चे का मुस्लिम धर्म की तरफ झुकाव बढ़ जाता।

जब बच्चे मुस्लिम बनने को तैयार हो जाता, तो आखिरी में उससे एक एफिडेविट बनवाया जाता। इस एफिडेविट में बच्चे से लिखवाया जाता कि वो अपनी मर्जी से इस्लाम कबूल कर रहा है।

ऑनलाइन गेमिंग को लेकर रूपरेखा तैयार : मंत्री राजीव चंद्रशेखर

ऑनलाइन गेमिंग के माध्यम से धर्म परिवर्तन करने के मामले पर केंद्रीय मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि हमने ऑनलाइन गेमिंग को लेकर पहली बार एक रूपरेखा तैयार की है, उसमें हम देश में 3 प्रकार के गेम की अनुमति नहीं देंगे।

इसे भी पढ़े- Hijab Hindu girl students : हिंदू छात्राओं को पहनाया हिजाब, स्कूल की मान्यता रद्द

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button