Quick Feed

डेटिंग ऐप, प्यार और धोखा, बुलाती है! मगर जाने का संभल के… खाने के ‘बिल’ के जरिए ठगी का नया तरीका

डेटिंग ऐप, प्यार और धोखा, बुलाती है! मगर जाने का संभल के… खाने के ‘बिल’ के जरिए ठगी का नया तरीका

प्‍यार की तलाश में डेटिंग ऐप (Dating App) का सहारा भी आपको स्‍कैम के जाल में फंसा सकता है. दरअसल, पिछले कुछ दिनों में डेटिंग एप पर लोगों को फंसाकर उन्‍हें लूटने के कई मामले सामने आए हैं. दरअसल, डेट पर जाने के दौरान खाने-पीने का सामान मंगवाया जाता है और फिर सामने आती है डेट की असलियत. जहां पर कुछ हजार के बिल की बजाय एक मोटा बिल थमा दिया जाता है और विरोध करने पर बंधक बनाने के साथ जबरन बिल चुकाने के लिए मजबूर किया जाता है. यह स्‍कैम किसी एक शहर में नहीं बल्कि कई बड़े शहरों में धड़ल्‍ले से चल रहा है. दिल्‍ली-एनसीआर, मुंबई, बेंगलुरु और हैदराबाद में ऐसे मामले सामने आ चुके हैं. सामाजिक कार्यकर्ता दीपिका नारायण भारद्वाज ने इस महीने की शुरुआत में एक्‍स पर एक पोस्‍ट की थी, जिसमें उन्‍होंने एक बिल की फोटो शेयर की और बताया कि डेटिंग के नाम पर कैसे लोगों को फंसाया जा रहा है. उन्‍होंने ‘हैदराबाद डेटिंग घोटाले’ के बारे में बताते हुए कहा कि एक ही क्‍लब में रोजाना लोगों को फंसाया जाता है. ## HYDERABAD DATING SCAM ALERT ##◾1 club, different names, daily trapping◾3 men scammed by same girl reached out◾8 victims in touch, scammed at same club◾Trap laid through Tinder, Bumble◾Bill amounts of 20-40K@hydcitypolice @TelanganaDGP @TelanganaCOPs @zomato pic.twitter.com/06xtRp6fHO— Deepika Narayan Bhardwaj (@DeepikaBhardwaj) June 6, 2024वारदात के बाद भी पुलिस के पास नहीं जाते लोग पीड़ितों के अकाउंट से पता चलता है कि एक ही क्लब तीन अलग-अलग नामों से चल रहा था और एक ही महिला डेटिंग ऐप्स पर कई लोगों से संपर्क बना रही थी और उन्हें पब में ले जा रही थी. कुछ मामलों में बिल 20,000 से 40,000 रुपये तक भी आ रहा है. इस मामले में ज्यादातर लोग पुलिस के पास जाते ही नहीं हैं, क्‍योंकि जांच में उनके परिवार को यह पता चल सकता है कि वह डेटिंग ऐप के जरिए लोगों से मिल रहे हैं. इसके कारण भी ऐसी वारदातों को अंजाम देने वालों को बढ़ावा मिलता है. लोगों को इस तरह से फंसाया जाता है जाल में टिंडर, बम्बल, हिंज और ओकेक्यूपिड जैसे डेटिंग ऐप पर पीडि़त की महिला से मुलाकात होती है और महिला आसानी से अपना व्हाट्सएप नंबर साझा करती है. दोनों में बात होने लगती है और जल्द ही दोनों डेट की योजना बनाते हैं. हालांकि इस दौरान महिला जोर देकर एक खास इलाके में मिलने के लिए बुलाती है और कहती है कि वहां पर काफी कैफे और पब हैं. जब पीड़ित कैफे का नाम पूछता है तो महिला उसे एक खास मेट्रो स्टेशन पर मिलने के लिए कहती है और बताती है कि वे वहां से जा सकते हैं. बिल आने पर सामने आती है डेट की असलियत कैफे में महिला ऑर्डर देती है. अपनी डेट को शानदार बनाने के लिए उत्‍सुक शख्‍स को आमतौर पर किसी भी बेईमानी का संदेह नहीं होता है. हालांकि इसके बाद महिला कुछ ऐसा ऑर्डर करती है जो शायद मेन्यू में नहीं होता है. कुछ मामलों में, महिला इमरजेंसी होने का नाटक करती है और जल्‍द ही कैफे छोड़ देती है. इसके बाद जब बिल आता है तो पीड़ित को अपने ठगे जाने का पता चलता है और यह बिल उसके अनुमान से कई गुना ज्यादा होता है. इसका विरोध करने पर कैफे स्टाफ या बाउंसर उसे धमकाते हैं. ऐसे में बहुत कम विकल्प बचे होने पर वह भुगतान करता है. सामाजिक कार्यकर्ता दीपिका नारायण भारद्वाज ने अपनी पोस्‍ट के साथ तीन पीड़ितों की दास्‍तान शेयर की है. एक पीड़ित की दास्‍तान एक शख्‍स ने अपने साथ 16 हजार रुपये की ठगी का जिक्र किया है और कहा है कि मैं गुमनाम रहना चाहता हूं और अपनी पहचान उजागर नहीं करना चाहता हूं. उन्‍होंने इस मामले का जिक्र करते हुए कहा कि डेटिंग एप टिंडर पर एक लड़की से मुलाकात हुई, जिसने हैदराबाद के हाईटेक मेट्रो स्‍टेशन पर मिलने के लिए बुलाया. इसके बाद हम एक क्‍लब में गए और उसने महंगी व्हिस्‍की और खाने का ऑर्डर दिया. उसने एक के बाद एक 5 ड्रिंक ली और मेरा कुल बिल 16 हजार रुपये का आया. मैं क्‍लब में पहली बार गया था तो मुझे लगा कि यह सामान्‍य है. हालांकि लौटकर मैंने जब बार के बारे में गूगल मैप पर चैक किया तो मैंने पाया कि दो में से एक शख्‍स वहां पर धोखाधड़ी का शिकार हुआ है. उन्‍होंने बताया कि कहीं पर बार का नाम एटिट्यूड क्‍बल एंड लॉन्‍ज है तो कहीं पर दे डेविल्‍स नाइट क्‍लब तो कहीं पर मोश और ये सभी एक हैं. यह गैलेरिया मॉल के चौथे फ्लोर पर है और यह हैदराबाद के हाईटेक सिटी मेट्रो स्‍टेशन के पास है. दूसरे पीड़ित की दास्‍तान इसके साथ ही एक अन्‍य शख्‍स ने लिखा कि रितिका नाम की लड़की ने मेरे साथ धोखाधड़ी की है. टिंडर पर मैच होने के बाद उसी दिन उसने हाईटेक मेट्रो स्‍टेशन पर मिलने के लिए कहा और नजदीक ही गैलेरिया मॉल में चलने के लिए कहा. उन्‍होंने बताया कि वह मॉल की चौथी मंजिल पर मोश क्‍लब ले गई, जहां पर उसने कुछ फायर शॉट्स महंगी ड्रिंक्‍स ऑर्डर की, जिसका बिल 40508 रुपये आया. मोश हैदराबाद का पब है, लेकिन इसका पेमेंट दिल्‍ली के एक अकाउंट में हुआ. एचडीएफसी का यह अकाउंट शारदा नगर ब्रांच में है. बाद में जब मैंने क्लब के गूगल रिव्‍यू देखे तो पता चला कि यह धोखाधड़ी में शामिल है. साथ ही उन्‍होंने बताया कि एंट्री फीस के 500 रुपये भी लिए गए और सिर्फ मेरी डिटेल ली गई, लेकिन लड़की की डिटेल नहीं ली गई. यहां तक की लड़की ने जो ड्रिंक्‍स ऑर्डर की है, उस पर भी मुझे संदेह है कि कोक या ऐसा ही कुछ पेश किया गया क्‍योंकि 60 एमएल के सात शॉट्स लेने के बाद भी उसे कोई फर्क नहीं पड़ा था. तीसरे पीड़ित की दास्‍तान तीसरे पीड़ित की कहानी भी दोनों से अलग नहीं है. उन्‍होंने बताया कि मैं टिंडर पर एक लड़की से मिला और उसके अगले ही दिन उसने मिलने के लिए कहा. हाईटेक मेट्रो स्‍टेशन के बगल में गैलेरिया मॉल में मिलने और फिर किसी जगह पर जाने की बात हुई, लेकिन जब मैं पहुंचा तो उसने मॉल के अंदर आने और कुछ खाने के लिए कहा. उसने कहा कि मॉल के टॉप फ्लोर पर चलते हैं, लेकिन उसने अचानक से लिफ्ट में चौथे फ्लोर के लिए स्विच दबा दिया. चौथे फ्लोर पर क्‍लब में एंट्री के 500 रुपये दिए और अंदर आकर उसने मेन्‍यू देखा और दोंनो के लिए खाना और ड्रिंक्‍स ऑर्डर की. उसने मुझे ढंग से मेन्‍यू नहीं देखने दिया और मैंने सोचा कि यहां पर नॉर्मल पब चार्ज होगा. उसने एक घंटे में रेड बुल के साथ लगातार 7-8 बार जगर शॉट्स ऑर्डर किए. उसने फायरशॉट्स ऑर्डर किए जिसकी कीमत 2 हजार रुपये थी. इसके बाद वेटर ने मुझे बताया कि बिल 20 हजार से ज्‍यादा हो गया है और इसके बाद मैंने उसे ऑर्डर लेने से रोका. उसने मुझे बिल दिया और ये 24 हजार रुपये था. मैं मेन्‍यू प्राइस देखकर चौंक गया और मुझे समझ नहीं आया कि मैं क्‍या करूं. मैंने जोमैटो के जरिए बिल का भुगतान करने की पेशकश की जो कि एक ऑफर में था. हालांकि पब मैनेजमेंट ने ऐसा नहीं करने दिया और कहा कि यह काम नहीं कर रहा है. हालांकि तथ्‍य यह है कि टेबल बुकिंग ऑप्‍शन और बिल पेमेंट ऑप्‍शन जोमैटो पर उपलब्‍ध है. मैंने उनके साथ कुछ वक्‍त बहस की लेकिन उन्‍होंने इससे इनकार कर दिया. उस वक्‍त मुझे लगा कि मेरे साथ धोखाधड़ी हुई है.ये भी पढ़ें :* ‘टिंडर’ पर राइट स्वाइप, डेट और फिर लाखों का बिल… डेटिंग ऐप पर किया जा रहा स्कैम* डेटिंग ऐप से जरा संभल के! ऐसे ठगी का शिकार हो रहे हैं लोग, दिल्ली पुलिस ने कर दिया खुलासा* वो डेट पर रेस्तरां बुलाएगी, फिर भाग जाएगी… दिल्ली में ‘बिल’ से लाखों लूटने वाला गजब गैंग

डेटिंग एप पर प्‍यार की तलाश कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए. डेटिंग एप पर पहचान, उसके बाद बात और डेट तक का सफर आपकी जेब खाली करवा सकता है.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button