Quick Feed

EXCLUSIVE : यूपीए-2 के उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने दिल्ली हवाई अड्डे की छत ढहने पर क्या कहा?

EXCLUSIVE : यूपीए-2 के उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल ने दिल्ली हवाई अड्डे की छत ढहने पर क्या कहा?Delhi airport roof collapse : एनसीपी नेता और राज्यसभा सांसद प्रफुल्ल पटेल ने दिल्ली हवाई अड्डे के टर्मिनल 1 पर हुए हादसे पर विपक्ष के विरोध को “शवों पर राजनीति” बताकर आलोचना की.  शुक्रवार को भारी बारिश के बाद टर्मिनल 1 की कार पार्किंग की छत का एक हिस्सा ढह गया था. इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई और आठ लोग घायल हो गए. इसके अलावा चार खड़ी कारें भी क्षतिग्रस्त हो गईं. हादसे में जान गंवाने वाले शख्स के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना करते हुए प्रफुल्ल पटेल ने एनडीटीवी को बताया कि उनकी ही देखरेख में  टर्मिनल 1 बनाई गई थी और इसे संभवत: दुनिया की सबसे अच्छी निमार्ण कंपनी लार्सन एंड टुब्रो ने बनाया था. जब इसका उद्घाटन हुआ, तब प्रफुल्ल पटेल  केंद्रीय उड्डयन मंत्री थे. यह 2009 की बात है. तब कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार सत्ता में थी. उस समय एनसीपी शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी थी. हालांकि, पिछले साल, शरद पवार के भतीजे अजित पवार विद्रोह कर भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल हो गए. प्रफुल्ल पटेल उस विद्रोही गुट का हिस्सा थे. एनडीटीवी से बात करते हुए प्रफुल्ल पटेल ने दुख व्यक्त किया कि T1 में दुर्घटना हुई है. उन्होंने कहा, “देखिए…अब उस संरचना के बारे में बात कर रहे हैं जो 15 साल पहले बनाई गई थी. इसके बारे में किसी भी निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए एक व्यापक ऑडिट की आवश्यकता है. मैं केवल इतना ही कह सकता हूं, जैसा कि मुझे याद है, इसे सर्वश्रेष्ठ निर्माण कंपनियों में से एक एल एंड टी ने बनाया था. जाहिर तौर पर कोई भी इमारत, जब बनाई जाती है, तो अनिवार्य डिजाइन और योजना मंजूरी से गुजरती है… इसलिए मैं 15 साल पहले बनी किसी चीज पर टिप्पणी नहीं कर सकता.” Deeply saddened by hearing about the roof collapse at Delhi Airport’s T-1 Terminal. My heartfelt condolences to the family of the deceased and prayers for the injured. Grateful for the swift response by emergency services. Stay safe, everyone.— Praful Patel (@praful_patel) June 28, 2024दिल्ली हवाई अड्डे की छत ढहने की पूरी जांच की विपक्ष की मांग पर प्रफुल्ल पटेल ने एनडीटीवी से कहा, “मैं सहमत हूं… ऐसी घटनाएं नहीं होनी चाहिए. हमें चिंतित होना चाहिए और इसे हल करने का प्रयास करना चाहिए, लेकिन अब यह कैसी राजनीति है… एक पक्ष दूसरे को दोष दे रहा है. यह पूरी तरह से अनुचित है. शवों पर राजनीति एक ऐसी चीज है जो मुझे पसंद नहीं है.”प्रफुल्ल पटेल के उत्तराधिकारी और वर्तमान उड्डयन मंत्री टीडीपी के राम मोहन नायडू ने दिल्ली हवाई अड्डे का दौरा किया और संवाददाताओं से कहा कि डीजीसीए दुर्घटना की जांच करेगा. उन्होंने यह भी कहा कि टी1 से प्रस्थान करने वाली सभी उड़ानें रद्द कर दी गईं हैं. टर्मिनल बंद होने से प्रभावित यात्रियों को पूरा रिफंड मिलेगा. प्रफुल्ल पटेल का पलटवार कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खरगे और वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के उस आरोप के बाद आया है कि कि टी1 भवन का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था. खरगे ने दावा किया था, “मोदी सरकार के पिछले 10 वर्षों में घटिया बुनियादी ढांचे के लिए भ्रष्टाचार और आपराधिक लापरवाही जिम्मेदार है.” नायडू ने कांग्रेस नेता के बयान में “गलत सूचना” का विरोध किया, और बताया कि प्रधानमंत्री ने एक अलग इमारत का उद्घाटन किया था. घटना सुबह 5.30 बजे की बताई गई है. सरकार मारे गए व्यक्ति के परिवार को 20 लाख रुपये और घायलों को 3-3 लाख रुपये देगी.

Delhi airport roof collapse : एनडीटीवी से प्रफुल्ल पटेल ने कहा कि मामले की जांच होनी चाहिए और ऐसी घटनाओं से चिंतित भी होना चाहिए लेकिन इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए.
Bol CG Desk

Related Articles

Back to top button